अश्विनी नक्षत्र का फल

The symbol of Ashwini Nakshatra

वैदिक ज्योतिष के अनुसार अश्विनी नक्षत्र का स्वामी केतु ग्रह है। यह अश्व के मुख की तरह दिखायी देता है। इस नक्षत्र के देवता अश्विनी कुमार और लिंग पुरुष है। यदि आप अश्विनी नक्षत्र से संबंध रखते हैं, तो उससे जुड़ी अनेक जानकारियाँ जैसे व्यक्तित्व, शिक्षा, आय तथा पारिवारिक जीवन आदि यहाँ प्राप्त कर सकते हैं।

 

अश्विनी नक्षत्र के जातक का व्यक्तित्व

आप बहुत ऊर्जावान व सक्रिय हैं और आपमें उत्साह भी अधिक है। छोटे-मोटे काम से आप संतुष्ट नहीं रहेंगे। बड़े और महत्वपूर्ण काम करने में ही आपको ज़्यादा आनंद आता है। हर काम को तेज़ी-से और कम-से-कम समय में करना आपकी आदत है। आपमें तेज़ी, फुर्ती और सक्रियता साफ़ दिखाई देती है। यदि आपके मन में कोई बात आती है तो आप शीघ्र ही उसे कार्यरूप में बदल डालते हैं। आप ज़िंदादिल, ख़ुशमिज़ाज व समझदार हैं और किसी भी बात को जल्दी समझकर सही निर्णय लेने की अद्भुत क्षमता भी आपमें है। आपका स्वभाव रहस्मयी है इसलिए धर्म, मंत्र शास्त्र और योग में भी आपकी रुचि होगी। आप निडर और साहसी भी हैं परन्तु आपको क्रोध करने से हमेशा बचना चाहिए। अपने दुश्मनों को पराजित करना आपको अच्छी तरह आता है और आपको ताक़त या दवाब से वश में नहीं किया जा सकता है; सिर्फ़ प्यार और स्नेह से ही आपको अपना बनाया जा सकता है। सामने आप बेहद शांत और संयमी दिखाई देंगे तथा अपना निर्णय लेने में कभी भी जल्दबाज़ी नहीं करेंगे। हर पहलू पर विचार करने के बाद ही आप कोई निर्णय करते हैं और एक बार जो निर्णय कर लेते हैं फिर उससे पीछे नहीं हटते। अपने फ़ैसलों में किसी की बातों से प्रभावित होकर परिवर्तन करना आपकी फ़ितरत नहीं है। अपने हर काम को बख़ूबी अंजाम देना भी आप जानते हैं। आप यारों के यार यानी श्रेष्ठ मित्र साबित हो सकते हैं और जिन्हें चाहते हैं उनके लिए अपना सर्वस्व न्योछावर करने के लिए भी तैयार रहते हैं। अगर आपको कोई पीड़ित दिखाई देता है तो उससे हमदर्दी जताने में भी आप पीछे नहीं रहते। घोर-से-घोर संकट में भी आप अपार धैर्य रखेंगे और ईश्वर पर भी आपका पूर्ण विश्वास है। परंपराप्रिय होते हुए भी आधुनिकता से आपका कोई बैर नहीं रहता है। साफ़-सफ़ाई का ध्यान रखना और अपने आसपास की हर वस्तु को तरीक़े से रखना आपको पसंद है।

शिक्षा और आय

आपको हरफ़नमौला कहा जा सकता है, यानी सभी बातों में आपकी कुछ-न-कुछ पैठ ज़रुर होगी। शिक्षा के क्षेत्र में आपको पर्याप्त सफलता मिल सकती है और चिकित्सा, सुरक्षा विभाग, पुलिस विभाग, सेना, गुप्तचर विभाग, इंजीनियरिंग, अध्यापन, प्रशिक्षण आदि क्षेत्रों में भी आप हाथ आज़मा सकते है। साहित्य और संगीत के प्रति भी आपका ख़ासा लगाव होगा और आपकी आय के साधन भी एक से अधिक हो सकते हैं। तीस वर्ष की आयु तक आपको काफ़ी उतार-चढ़ाव देखने पड़ सकते हैं।

पारिवारिक जीवन

अपने परिवार से आप बेहद प्यार करते हैं लेकिन हो सकता है कि पिता की तरफ़ से आपका मन-मुटाव रहे, परन्तु मातृपक्ष के लोग आपकी मदद के लिए हमेशा तैयार रहेंगे और परिवार से बाहर के लोगों से भी आपको काफ़ी मदद मिलेगी। आपका वैवाहिक जीवन सुखी दिखता है। पुत्रियों की अपेक्षा पुत्रों की संख्या अधिक हो सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: