Om Asttro / ॐ एस्ट्रो

News & Update

कुंडली रिपोर्ट , शनि रिपोर्ट , करियर रिपोर्ट , आर्थिक रिपोर्ट जैसी रिपोर्ट पाए और घर बैठे जाने अपना भाग्य अभी आर्डर करे
❣️❣️ वक्रतुण्ड महाकाय सूर्यकोटि समप्रभ।निर्विघ्नं कुरु मे देव सर्वकार्येषु सर्वदा ।❣️❣️ ज्योतिष: वेद चक्षु नमः शम्भवाय च मयोभवाय च नमः शंकराय च मयस्कराय च नमः शिवाय च शिव तराय च नमः।।>

Om Asttro / ॐ एस्ट्रो

February 7, 2023 20:06
Omasttro

 


*👉🏻(बुध)* ग्रह के प्रतिनिधि रत्‍न पन्‍ना को पहनने के बहुत लाभ हैं. इसे पहनने से न केवल धन-दौलत बढ़ती है, बल्कि पर्सनालिटी में भी जबरदस्‍त निखार आता है


👉🏻ज्योतिषाचार्य पं दुर्गेश शर्मा शास्त्री के अनुसार रत्‍न शास्‍त्र विद्या में हर ग्रह को सशक्‍त करके उससे अच्‍छे फल पाने के लिए विभिन्‍न रत्‍न पहनने की सलाह दी गई है. 9 ग्रहों के ये 9 रत्‍न बहुत असरकारक होते हैं. इन्‍हीं में से एक है *बुध ग्रह का प्रतिनिधित्‍व करने वाला पन्‍ना रत्‍न* हरे रंग का यह पत्‍थर या रत्‍न बुद्धि, अच्‍छी मानसिक स्थिति, कंसंट्रेशन, व्‍यापार और वाक्चातुर्य आदि को बढ़ाने वाला है. आज इस रत्‍न के बारे में विस्‍तार से जानते हैं.


*👉🏻किन लोगों के लिए लाभदायक है पन्ना रत्‍न*
👉🏻वृष, मिथुन, कन्या, तुला, मकर और कुम्भ राशि वाले जातकों के लिए पन्ना धारण करना शुभ होता है.


👉🏻वहीं सिंह, धनु और मीन राशि वालों की कुंडली के अनुसार कुछ स्थितियों में यह रत्‍न पहना जा सकता है,


👉🏻लेकिन मेष, कर्क और वृश्चिक वालों को पन्ना गलती से भी नहीं पहनना चाहिए.


👉🏻 लेकिन विद्यार्थियों और व्‍यापारियों के लिए यह खासतौर पर बहुत शुभ होता है.


*👉🏻पन्ना पहनने के लाभ*
👉🏻इस रत्‍न को पहनने से चिंताओं से मुक्ति मिलती है. मन शांत और केंद्रित रहता है, इसलिए लेखन आदि से जुड़े लोगों के लिए बहुत लाभदायी है.


*👉🏻पन्‍ना पहनने के नियम*
👉🏻- पन्‍ना खरीदते समय ध्‍यान रखें कि इसका हरा रंग जितना गहरा हो उतना अच्‍छा होता है.


👉🏻- इस रत्न को बुधवार के दिन ही धारण करें. उस पर भी यदि बुधवार के दिन अश्लेषा, ज्येष्ठा या रेवती नक्षत्र हो तो यह समय पन्‍ना पहनने के लिए अति उत्तम माना जाता है.


👉🏻- धारण करने से पहले सुबह के समय पन्‍ना को गाय के दूध में कुछ देर के लिए रखें. इसके बाद इसे मंदिर में भगवान की मूर्ती के पास चढ़ाएं. फिर गंगाजल से धोकर सुबह 10 बजे से पहले पहन लें. पन्‍ना पहनते समय बुध ग्रह मंत्र का जाप करावे.


👉🏻- पन्‍ना को चांदी में या सोने की अंगूठी में सबसे छोटी उंगली में धारण करना चाहिए. पन्‍ना के साथ हीरा या ओपल इसके लाभ को कई गुना बढ़ा देते हैं. इन दोनों के अलावा कोई अन्‍य रत्‍न पहनने से पहले विशेषज्ञ से सलाह लें.

 

 

 

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Join Omasttro
Scan the code
%d bloggers like this: