Om Asttro / ॐ एस्ट्रो

News & Update

कुंडली रिपोर्ट , शनि रिपोर्ट , करियर रिपोर्ट , आर्थिक रिपोर्ट जैसी रिपोर्ट पाए और घर बैठे जाने अपना भाग्य अभी आर्डर करे
❣️❣️ वक्रतुण्ड महाकाय सूर्यकोटि समप्रभ।निर्विघ्नं कुरु मे देव सर्वकार्येषु सर्वदा ।❣️❣️ ज्योतिष: वेद चक्षु नमः शम्भवाय च मयोभवाय च नमः शंकराय च मयस्कराय च नमः शिवाय च शिव तराय च नमः।।>

Om Asttro / ॐ एस्ट्रो

February 7, 2023 19:46
Omasttro




मानव जीवन में ग्रह और नक्षत्रो के प्रभाव से सुख और दुःख का चक्र हमेशा चलता रहता है। सुख में हमें कोई तकलीफ नहीं होती है लेकिन दुःख इंसान को तोड़ देता है। हम सबकी जिंदगी में ऐसे कई मौके आते हैं जब हमें लगातार संघर्ष करना पड़ता है लेकिन सफलता और सुख फिर भी हमारी पहुंच से दूर रहते हैं। दुःखों को दूर करने के लिए हम कई प्रयास करते हैं। इन कोशिशों में ज्योतिषीय उपाय, तंत्र-मंत्र, टोटके, जप, यज्ञ और साधना आदि प्रमुख हैं। दरअसल वैदिक ज्योतिष में ऐसे अनेकों उपायों का जिक्र है जिनकी मदद से मनुष्य अपने दुःखों पर काफी हद तक नियंत्रण पा सकता है। इनमें ग्रहों की शांति के उपाय, नौकरी, व्यवसाय, संतान प्राप्ति, सफलता, पितृ दोष, शीघ्र विवाह समेत कई परेशानियों के उपाय और टोटके प्रमुख हैं।

वैदिक ज्योतिष में उपाय
हिन्दू वैदिक ज्योतिष में लोगों की गहरी आस्था और विश्वास है। यही वजह है कि बच्चे के जन्म के बाद ही हिन्दू परिवारों में उसकी जन्म कुंडली बनाई जाती है। ताकि इस बात का पता लगाया जा सके कि वो अपने जीवनकाल में किस प्रकार उन्नति करेगा, उसकी राह में कौन-कौन सी बाधाएं आएंगी और किस प्रकार उन परेशानियों का समाधान होगा। जीवन के हर मोड़ जब समस्याएं हमें घेरती हैं तो वैदिक ज्योतिष के विभिन्न उपायों के जरिये उनका हल प्राप्त किया जा सकता है।

रत्न से जुड़े उपाय
वैदिक ज्योतिष और मानव जीवन में हमेशा से रत्नों का विशेष महत्व रहा है। रत्नों ने हमेशा आभूषण के तौर पर हमें आकर्षित किया है। ज्योतिष जगत में रत्नों को सकारात्मक ऊर्जा का केंद्र कहा जाता है। क्योंकि हर रत्न का एक स्वामी ग्रह होता है जो उस ग्रह से संबंधित परेशानियों को दूर करता है और शुभ फल की प्राप्ति कराता है। इनमें पुखराज , नीलम , मूंगा ,मोती , माणिक्य , पन्ना और जमुनिया समेत कई रत्न और उपरत्न हैं। जिन्हें अपनी राशि अनुसार धारण करने से जीवन में आ रही तमाम मुश्किलों का अंत होता है और सुख की प्राप्ति होती है।

यंत्र से संबंधित उपाय
मान्यता है कि यंत्रों में अपार शक्ति होती है और इनके प्रभाव से जीवन में आने वाली हर मुश्किलों का अंत हो जाता है, इसलिए वैदिक ज्योतिष में यंत्र स्थापना पर अधिक जोर दिया जाता है। घर, ऑफिस और कारखाने में सुख-समृद्धि बनी रहे इसके लिए यंत्रों की स्थापना की जाती है। इनमें व्यापार वृद्धि यंत्र , कुबेर यंत्र , वास्तु यंत्र , धनवर्षा यंत्र , महालक्ष्मी यंत्र और कालसर्प दोष निवारण यंत्र समेत कई यंत्र हैं.


तंत्र-मंत्र की साधना
तंत्र-मंत्र की साधना को ज्योतिष शास्त्र में सबसे कठिन लेकिन सबसे असरदार बताया गया है। जप,तप और मंत्र के बल पर कई मनुष्यों ने असंभव कार्यों को संभव कर दिखाया है। हालांकि आज के आधुनिक युग में तंत्र-मंत्र की साधना करना इतना आसान नहीं है। हालांकि विषम परिस्थितियों में यदि मनुष्य मंत्रों का सहारा ले तो, उसकी हर राह आसान हो जाती है।


उपाय करते समय ये सावधानी अवश्य बरतें
किसी भी उपाय और टोटके को करते समय मन में यह विश्वास रखें कि मेरे द्वारा किया यह कार्य ईश्वर की कृपा से मुझे शुभ फल प्रदान करेगा।
उपाय और टोटकों की गोपनीयता को बनाये रखें। इसका मतलब है कि इसके बारे में किसी को न बताएँ।
सभी उपाय रीति-नीति के साथ पूर्णतः सात्विक होकर करना चाहिए।
मन में यह विचार करें कि आस्था और विश्वास के साथ किया जाने वाला यह कार्य सफल होता है।
धन संबंधी किये जाने वाले उपाय शुक्ल पक्ष में करना अधिक लाभकारी होते हैं।
शास्त्रों में चतुर्थी, नवमी और चतुर्दशी को रिक्ता तिथि यानि खाली तिथि माना गया है इसलिए कोशिश करनी चाहिए कि इस दिन विद्वान ज्योतिषी और पंडित से परामर्श लेने के बाद ही उपाय या टोटके करना चाहिए।


ज्योतिषीय उपायों का महत्व
ज्योतिष शास्त्र में लोगों का गहरा विश्वास है, इसलिए जीवन के हर क्षेत्र में सफलता और मनवांछित फल पाने के लिए ज्योतिषीय उपाय और टोटकों की बहुत मान्यता है। लोगों के अनुभवों से पता चलता है कि इन उपायों को सही विधि और तरीके से करने से कार्य अवश्य सिद्ध होते हैं। जीवन में हर व्यक्ति की इच्छा होती है कि उसके पास सारे सुख-साधन और धन हो लेकिन ऐसा सबके साथ हो यह जरूरी नहीं है। एक ओर जहां किसी के पास अपार दौलत है वहीं दूसरी ओर कोई जरूरी सुविधाओं के लिए तरसता है। इसलिए इस दुनिया में हर व्यक्ति की अपनी-अपनी परेशानियां होती हैं और इन्हीं समस्याओं को दूर करने के लिए ज्योतिष शास्त्र में उपाय, टोटके और तंत्र-मंत्र बताये गये हैं। इनके माध्यम से व्यक्ति काफी हद तक अपनी परेशानियों को दूर सकता है और एक खुशहाल जीवन व्यतीत कर सकता है।

इस लेख में हमने धन प्राप्ति, संतान, पुत्र-पुत्री प्राप्ति और पदोन्नति प्राप्ति समेत कई अन्य उपायों के बारे में बताने की कोशिश की है। इन ज्योतिष उपायों की मदद से ईश्वर की कृपा होती है और मनुष्य के कार्यों में आ रही रुकावट दूर होती है और उसे धन और समस्त सांसारिक सुखों की प्राप्ति होती है। इन तमाम ज्योतिषीय उपाय और टोटकों के द्वारा व्यक्ति अपने जीवन में चली आ रही बाधाओं को दूर कर, एक सफल व समृद्ध जीवन की कामना कर सकता है। याद रखें किसी भी प्रकार के ज्योतिषीय उपाय और टोटके करने से पूर्व विद्वान ज्योतिषी या पंडित जी से परामर्श अवश्य लें।

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Join Omasttro
Scan the code
%d bloggers like this: