Om Asttro / ॐ एस्ट्रो

News & Update

कुंडली रिपोर्ट , शनि रिपोर्ट , करियर रिपोर्ट , आर्थिक रिपोर्ट जैसी रिपोर्ट पाए और घर बैठे जाने अपना भाग्य अभी आर्डर करे
❣️❣️ वक्रतुण्ड महाकाय सूर्यकोटि समप्रभ।निर्विघ्नं कुरु मे देव सर्वकार्येषु सर्वदा ।❣️❣️ ज्योतिष: वेद चक्षु नमः शम्भवाय च मयोभवाय च नमः शंकराय च मयस्कराय च नमः शिवाय च शिव तराय च नमः।।>

Om Asttro / ॐ एस्ट्रो

February 7, 2023 21:16
Omasttro

By -: Suzuka Asttro

 

मानव मन में कई इच्छाएँ होती हैं जिन्हें वह पूरा करना चाहता है। कई प्रयासों के बावजूद, उनका सपना सच नहीं हुआ। केवल भगवान गणेश ही इस स्थिति में आपकी मदद कर सकते हैं। गणेश अपने भक्तों की इच्छाओं को पूरा करने के लिए जाने जाते हैं। इसी समय, उन्हें “भाग्यविधाता” के रूप में भी जाना जाता है। इसमें आपके भाग्य को आकार देने की शक्ति है।


80%  अस्सी प्रतिशत काम सिर्फ इसलिए खराब हो जाता है क्योंकि आपकी किस्मत समय पर नहीं होती। आप ईसमे  अपने भाग्य को मजबूत करने के लिए भगवान गणेश की मदद ले सकते हैं। अभी के लिए, हम आपको भगवान गणेश के एक विशेष उपाय के बारे में बताते हैं। इस उपाय को आजमाने के बाद आपकी सभी मनोकामनाएं पूरी होंगी, तो आइए जानते हैं इस विशेष उपाय के बारे में।

किसी भी शुभ कार्य का शुभारंभ श्रीगणेश के नाम से होता है। बच्चों को विद्या अध्ययन के लिये स्कूल भेजते समय उनकी स्लेट पर सबसे पहले “श्रीगणेशाय नम:”ही लिखा जाता है। विद्या के देव के प्रति श्रद्धा और विनम्रता रखकर विद्या पाई जा सकती है। विद्या से हमें ज्ञान और बुद्धि मिलती है। हमारे जीवन की आधारशिला विद्या ही है। विद्या जीवन की पहली संपत्ति है। विद्या का आधार बुद्धि है, जो दिमाग में रहती है। गणेश बुद्धि के भी देवता हैं। मनुष्य में बुद्धि ही प्रधान है। शक्ति तो पशुओं में भी होती है लेकिन मनुष्य को पशुओं से ऊपर रखने वाली बुद्धि ही है। बुद्धि की रक्षा के लिए शक्ति ज़रुरी है, लेकिन शक्ति को बनाये रखने के लिये बुद्धि ज़रुरी है। गणेशजी के सिर पर हाथी का मस्तक बुद्धि का प्रतीक है। बुद्धि से हमें अच्छे विचार मिलते हैं। बुद्धि ही हमें भलाई और बुराई में फर्क बताती है। गणेश के शरीर में हाथी का सिर बुद्धि, कर्म और शक्ति का प्रतीक है। सिर से जुड़ी सूंड बताती है कि बुद्धि, कर्म और शक्ति में तालमेल होना चाहिये। इसी सामंजस्य से ही हमें सफलता मिलती है। अगर आपको भी बुद्धि के बल पर सफलता पानी हो, लेकिन सफलता की राह में रुकावट आ रही है तो उसे इन उपायों से दूर किया जा सकता है।

  • गणपति उपाय से हर विघ्न दूर
     किसी काम में बार बार विघ्न आ रहा हो तो गणेश जी को 4 नारियल की माला चढ़ायें,सारे विघ्न  देखते ही देखते दूर हो  जायेंगे और आपको काम में सफलता मिलेगी।
  • गणपति उपाय से प्रतियोगिता में सफलता 
     कच्चे सूत में 7 गांठ लगाकर जय गणेश काटो कलेश कहते हुए गणेशजी को चढ़ायें, उसके बाद धागा अपने पर्स में  रखें,  ऐसा करने से परीक्षा या इंटरव्यू में सफलता मिलेगी। 
  • गणपति उपाय से वाकपटुता
     अगर आप बोलने में संकोच करते हैं, या वाणी संबंधी कोई दोष है, रुक-रुक कर बोलते हैं तो  वाणी  दोष दूर करने के  लिए  गणपति को केले की माला चढ़ायें। 
  • गणपति उपाय से यादाश्त तेज़
     स्मरण शक्ति बढ़ाने के लिए मुरमुरे से हवन करें और गणपति अथर्वशीर्ष के अंतिम श्लोक का पाठ करें
     महाविघ्नात्प्रमुच्यते।। महादोषात्प्रमुच्यते।। महापापात् प्रमुच्यते।
     स सर्व विद्भवति स सर्वविद्भवति। य एवं वेद इत्युपनिषद।।

  • गणपति उपाय से लेखन क्षमता में वृद्धि
     अगर आप परीक्षा के दौरान बहुत कुछ आने के बावजूद, उत्तर लिखते समय भूल जाते हैं तो फिर ॐ व्रात पतये      नम:ॐ वरद मूर्तए नम: मंत्र का जाप परीक्षा से पहले करें। ऐसा करने से आप परीक्षा देते समय, उत्तर बहुत अच्छी तरह  से लिख पायेंगे। 
  • गणपति का सफलता पाने का उपाय
     अगर आप जीवन के हर क्षेत्र में सफल होना चाहते हैं तो इसके लिए आप सुबह उठकर अपने माता-पिता का पैर  अवश्य  स्पर्श करें। गणपति ऐसा करके ही प्रथम पूज्य कहलाये। इस उपाय को आज भी सफलता की गारंटी माना जाता  है।   
  • गणपति उपाय से क्रोध शांत
     अगर आपको बात-बात पर गुस्सा आता है तो उसे दूर करने के लिए लंबोदर गणपति को लाल रंग का कोई भी फूल  चढ़ायें।


भगवान श्री गणेश के समक्ष अपने मन की इच्छा व्यक्त करें। तब कुसुम की प्रसादी स्वयं को खानी पड़ती है। आप अपने द्वारा प्रस्तुत मोदक प्रसाद को सभी को वितरित कर सकते हैं। जब आपका मानसिक कार्य पूरा हो जाए, तो एक बार फिर से गणेश मंदिर जाएं और गणपति बाप को धन्यवाद दें।


By -: Suzuka Asttro

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Join Omasttro
Scan the code
%d bloggers like this: