Om Asttro / ॐ एस्ट्रो

News & Update

कुंडली रिपोर्ट , शनि रिपोर्ट , करियर रिपोर्ट , आर्थिक रिपोर्ट जैसी रिपोर्ट पाए और घर बैठे जाने अपना भाग्य अभी आर्डर करे
❣️❣️ वक्रतुण्ड महाकाय सूर्यकोटि समप्रभ।निर्विघ्नं कुरु मे देव सर्वकार्येषु सर्वदा ।❣️❣️ ज्योतिष: वेद चक्षु नमः शम्भवाय च मयोभवाय च नमः शंकराय च मयस्कराय च नमः शिवाय च शिव तराय च नमः।।>

Om Asttro / ॐ एस्ट्रो

February 7, 2023 19:41
Omasttro
meshaadi raashiyon evan navaansho ke svaamee ( laghujaatak )

 

कुजशुक्रज्ञेन्द्वर्कज्ञशुक्रकुजजीवसौरियमगुरुवः  | 

भेषानवांशकानामजमकरतुलाकुलीराद्याः || ८ ||

 

मंगल , शुक्र , बुध , चंद्रमा , सूर्य , बुध , शुक्र , मंगल , बृहस्पति , शनि , शनि , बृहस्पति ये क्रम से मेषादि १२ राशियों के स्वामी है | तथा मेषादि राशियों के नवांशादिको के भी क्रम से मंगलादिक ही स्वामी होते है | एवं मेषादि १२ राशियों से क्रम से मेषादि , मकरादि , तुलादि और कर्कादि तीन आवृत्ति करके नवांश होते है | जैसे मेष में मेषादि ९ , वृष में मकरादि , तुला ९ , मिथुन में तुलादि ९ तथा कर्कादि ९ राशि | स्पष्टार्थ चक्र देखे –

विशेष –  इसका प्रयोजन जन्मकाल में राशि और नवांश में जो बली रहता है   | उसी के समान जातक का रूप – वर्ण आदि  समझा जाता है |

 

 

 

|| लघुजातक ||

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Join Omasttro
Scan the code
%d bloggers like this: