Om Asttro / ॐ एस्ट्रो

News & Update

कुंडली रिपोर्ट , शनि रिपोर्ट , करियर रिपोर्ट , आर्थिक रिपोर्ट जैसी रिपोर्ट पाए और घर बैठे जाने अपना भाग्य अभी आर्डर करे
❣️❣️ वक्रतुण्ड महाकाय सूर्यकोटि समप्रभ।निर्विघ्नं कुरु मे देव सर्वकार्येषु सर्वदा ।❣️❣️ ज्योतिष: वेद चक्षु नमः शम्भवाय च मयोभवाय च नमः शंकराय च मयस्कराय च नमः शिवाय च शिव तराय च नमः।।>

Om Asttro / ॐ एस्ट्रो

February 8, 2023 00:17
Omasttro

घड़ी का काम समय दिखाना है, लेकिन अगर यह घड़ी गलत जगह पर लगाई गई है, तो आपका समय खराब हो सकता है। हम सभी के घर में घड़ियां होती हैं। लेकिन लोग अक्सर घर की किसी भी दीवार पर घड़ी लगाते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि किसी भी घड़ी को वास्तुशास्त्र के अनुसार फिट किया जाना चाहिए? आखिर में घड़ी लगाने का उचित तरीका क्या है? हमारे लेख के माध्यम से हमें बताएं।
घड़ी को कभी भी एक समतल दिशा में स्थापित नहीं करना चाहिए। क्योंकि शास्त्रों के अनुसार दक्षिण दिशा समय का वास है। वास्तुशास्त्र के अनुसार घड़ी को आड़ी दिशा में लगाना अशुभ होता है। क्योंकि दक्षिण दिशा में रिश्तेदारों की तस्वीर चिपका दी जाती है। इसीलिए अमृत लोगों की तस्वीरों को हमेशा दक्षिण दिशा में लगाना चाहिए, न कि घड़ी से। वास्तुशास्त्र के अनुसार घड़ी लगाने की उचित जगह उत्तर, पूर्व और पश्चिम दिशा है। कहा जाता है कि इन तीनों दिशाओं में सकारात्मक ऊर्जा होती है।

वास्तुशास्त्र के अनुसार घड़ी को किसी भी घर के दरवाजे पर नहीं लगाना चाहिए, यह अशुभ माना जाता है। दरवाजे पर घड़ी लगाने का मतलब तनाव को आमंत्रित करना है। इससे घर में तनाव का माहौल बनता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि दरवाजे से होकर नकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह होता है।

यदि आप अपने घर के ड्राइंग रूम में पेंडुलम वाली घड़ी लगाते हैं, तो यह वास्तुशास्त्र के अनुसार शुभ होता है। पेंडुलम घड़ी हर घंटे एक टन शोर करती है और आपको समय का एहसास कराती है। अगर आप ऐसी घड़ी पहनते हैं तो घर में बरकत बनी रहती है।

घर में बंद घड़ी कभी न रखें। घड़ी की मरम्मत करवाएं या घर से बाहर फेंक दें। घर में किसी भी बंद घड़ी को रखना अशुभ होता है चाहे वह दीवार पर लगी हो या हाथ की घड़ी या टेबल क्लॉक। वास्तु कहता है कि रुका हुआ समय आपके जीवन में भी बाधा डालता है और आपके हर काम में बाधा डालता है। इसलिए अगर आपके घर में टूटी हुई घड़ी है, तो उसे तुरंत ठीक करवाएं या उसे खुरचें।

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Join Omasttro
Scan the code
%d bloggers like this: