Om Asttro / ॐ एस्ट्रो

News & Update

कुंडली रिपोर्ट , शनि रिपोर्ट , करियर रिपोर्ट , आर्थिक रिपोर्ट जैसी रिपोर्ट पाए और घर बैठे जाने अपना भाग्य अभी आर्डर करे
❣️❣️ वक्रतुण्ड महाकाय सूर्यकोटि समप्रभ।निर्विघ्नं कुरु मे देव सर्वकार्येषु सर्वदा ।❣️❣️ ज्योतिष: वेद चक्षु नमः शम्भवाय च मयोभवाय च नमः शंकराय च मयस्कराय च नमः शिवाय च शिव तराय च नमः।।>

Om Asttro / ॐ एस्ट्रो

February 7, 2023 21:28
Omasttro

ग्रहों की पारस्परिक – मैत्री अनेक प्रकार की मानी गई है | नैसर्गिक ( स्वाभाविक ) मैत्री का उल्लेख प्रत्येक ग्रह के साथ है |

 

ग्रह मित्र  सम  शत्रु 
सूर्य  चन्द्र , मंगल , गुरु बुध शनि , शुक्र
चन्द्र  सूर्य , बुध मंगल , गुरु , शुक्र , शनि
मंगल  सूर्य , चन्द्र , गुरु शुक्र , शनि बुध
बुध  सूर्य , शुक्र मंगल , गुरु , शनि चन्द्र
गुरु  सूर्य , चन्द्र , मंगल शनि बुध , शुक्र
शुक्र  बुध , शनि मंगल , गुरु सूर्य , चन्द्र
शनि  बुध , शुक्र गुरु सूर्य , चन्द्र , मंगल
राहू  बुध , शुक्र , शनि गुरु सूर्य , चन्द्र , मंगल
केतु  बुध , शुक्र , शनि गुरु सूर्य , चन्द्र , मंगल

 

ध्यान दे :-     

  • राहू के मित्रादि शनि की भाति है |
  • शुक्र , गुरु और शनि राहू के मित्र है |
  • शुक्र , गुरु और शनि केतु के मित्र है |
  • केतु के सूर्य , चन्द्र तथा मंगल “मित्र” है | गुरु ‘सम’ है तथा शुक्र और शनि शत्रु है |
  • चंद्रमा , सूर्य , मंगल तथा गुरु परस्पर मित्र है |
  • बुध , शुक्र , शनि , राहू तथा केतु परस्पर मित्र है |
  • चंद्रमा , सूर्य , मंगल तथा गुरु की बुध , शुक्र , शनि , राहु तथा केतु से शत्रुता है |
  • राहू तथा शनि की चंद्रमा तथा गुरु की एवं मंगल तथा सूर्य की परस्पर विशेष ‘मित्रता’है |
  • सूर्य तथा राहू की बृहस्पति तथा शुक्र की  ,चंद्रमा तथा नुध की तथा सूर्य और शनि की परस्पर विशेष ‘शत्रुता’ है |

*** 

 

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Join Omasttro
Scan the code
%d bloggers like this: