रेवती नक्षत्र का फल

रेवती नक्षत्र का चिह्न

वैदिक ज्योतिष के अनुसार रेवतीनक्षत्र का स्वामी बुध ग्रह है। यह एक ढोल या मछली के जोड़े की तरह दिखायी देता है। इस नक्षत्र पुष्पन और लिंग स्री है। यदि आप रेवतीनक्षत्र से संबंध रखते हैं, तो उससे जुड़ी अनेक जानकारियाँ जैसे व्यक्तित्व, शिक्षा, आय तथा पारिवारिक जीवन आदि यहाँ प्राप्त कर सकते हैं।

रेवती नक्षत्र के जातक का व्यक्तित्व

आप मधुरभाषी, व्यवहार-कुशल और स्वतंत्र प्रवृत्ति के हैं। बिना बात के दूसरों के काम में टांग अड़ाना आपको पसंद नहीं है और न ही आप चाहते हैं कि कोई दूसरा आपके काम में दख़लअंदाज़ी करे। जब कोई आपको आपके उसूलों से डिगाने की कोशिश करता है तो कभी-कभी आपका स्वभाव उग्र हो जाता है। वैसे आप बहुत सिद्धांत-प्रिय हैं। परिस्थितियों के अनुसार आपमें दूसरों से व्यवहार करने का कौशल है। आप दिल से साफ़ और ईमानदार हैं। आप लंबे समय तक किसी बात को गुप्त नहीं रख पाते। आँख मूँदकर आप किसी पर विश्वास नहीं करते परन्तु जब एक बार आप किसी पर विश्वास कर लेते हैं तो फिर उससे पक्की मित्रता निभाते हैं। कुछ भी हो जाये, अपनी अंतरात्मा के अनुसार आचरण करना आपकी आदत है। आपका स्वभाव अत्यंत धार्मिक है और इसी वजह से कभी-कभी आप घोर अंधविश्वासी भी बन जाते हैं। प्राचीन संस्कृतियों एवं इतिहास में आपकी गहन रुचि है। खगोल शास्त्र, ज्योतिष शास्त्र में भी आपकी गहरी पैठ है। आपमें काव्य प्रतिभा भी है और परंपरावादी होने के बावजूद आप वैज्ञानिक समाधानों एवं शोधों में लगे रहते हैं। दूसरों की बातों को आप जल्दी स्वीकार नहीं करते हैं। मान्यताओं के प्रति जहाँ आप दृढ़ निश्चयी हैं वहीं व्यवहार में लचीले भी हैं अर्थात अपना काम निकालने के लिए आप नरम रुख़ अपनाते हैं। अपने व्यक्तित्व की इसी विशेषता के कारण आप क़ामयाबी की राह पर आगे बढ़ते हैं। आप चतुर व होशियार हैं और आपकी बुद्धि प्रखर है। आपकी शिक्षा का स्तर ऊँचा है। अपनी बुद्धि के बल पर आप किसी भी काम को तेज़ी-से सम्पन्न कर लेते हैं। आपमें निर्णय-क्षमता अद्भुत है। आप विद्वान हैं व आपकी वाणी में हमेशा मधुरता रहती है। दूसरों के साथ आपका व्यवहार अच्छा है और आप अच्छे मित्र हैं। जीवन की सभी बाधाओं को पार कर आप सदैव आगे बढ़ने की चेष्टा करते हैं।

शिक्षा और आय

नौकरी के प्रति आपका विशेष लगाव है यानी आप नौकरी करना पसंद करेंगे। अपनी मेहनत, बुद्धि एवं लगन से आप नौकरी में उच्च पद को प्राप्त करेंगे। हालाँकि व्यावसायिक रूप से आप क़ामयाब रहेंगे। आप कलाकार, चित्रकार, सम्मोहनकर्ता, अभिनेता, संगीतज्ञ, जादूगर, घड़ियों से जुड़े कार्य, भवन निर्माण से जुड़े काम, कैलेंडर या पंचांग निर्माता, ज्योतिषी, एयर हॉस्टेस, रत्नों के व्यापारी, जल परिवहन से जुड़े कार्य, अनाथाश्रम से जुड़े कार्य, धार्मिक संस्थाओं के संचालक, यातायात नियंत्रण व पुलिस विभाग, बिजली विभाग से जुड़े कार्य, सड़क सुरक्षाकर्मी आदि करके सफल हो सकते हैं।

पारिवारिक जीवन

आपका वैवाहिक जीवन प्राय: सुखी बीतेगा। जीवनसाथी से अच्छा तालमेल रहेगा। बच्चों से भी आपको भरपूर सुख मिलेगा, परन्तु मुमकिन है कि पिता से ज़्यादा सहायता न मिले। आपका जीवनसाथी कुछ हठीले स्वभाव का हो सकता है, लेकिन वह ईश्वरभक्त होगा व रीति-रिवाज़ों का पूर्ण रूप से पालन करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: