Omasttro के इस लेख में हम आपको बताएंगे S नाम की राशि (हिन्दी में सा, सी, सु, से, सो) वाले लोगों की क्या विशेषताएं होती हैं। उनका स्वभाव कैसा होता है। वे अपने करियर में किस प्रकार का प्रदर्शन करते हैं। आमतौर पर उनका स्वास्थ्य कैसा रहता है। प्रेम संबंध के मामले में यह कैसे होते हैं। व्यक्तिगत जीवन में उनकी क्या भूमिका रहती है।

वैदिक ज्योतिष में नाम के पहले अक्षर से भी राशि का पता लगाया जाता है चूंकि किसी भी व्यक्ति के नाम का पहला अक्षर उसके जन्म के समय ग्रहों एवं नक्षत्रों की स्थिति के बारे जानकारी प्रदान करता है। जिनके आधार पर व्यक्ति के स्वभाव, व्यक्तित्व, करियर, प्रेम जीवन, स्वास्थ्य, वैवाहिक जीवन तथा व्यक्तिगत जीवन आदि के बारे में पता लगाया जा सकता है।

 

S से नाम शुरू होने वाले लोगों की विशेषताएं

प्यार के मामले में S नाम की राशि वाले लोग बहुत गंभीर और संवेदनशील होते हैं। ये अपने प्रिय की बहुत इज़्ज़त करते हैं तथा उनके प्रति पूर्ण रूप से समर्पित रहते हैं। यही कारण है कि इनका प्रेम जीवन काफ़ी सुखद और रोमांटिक रहता है।

इन लोगों में नेतृत्व करने की ख़्वाहिश होती है। किसी के नीचे काम करना इन्हें पसंद नहीं आता है। ये चाहते हैं कि ये जो भी काम करें, अपने मुताबिक करें और अन्य लोग इनके हिसाब से काम को आगे बढ़ाएं।

 

बातों को तोल-मोल कर बोलना इन्हें बख़ूबी आता है अर्थात ये लोग जो भी बोलते हैं, बहुत सोच-विचार कर बोलते हैं और इनकी इस विशेषता के कारण लोग इनकी तरफ़ आकर्षित होते हैं।

स्वास्थ्य के मामले में S नाम की राशि वाले लोग थोड़ा बदकिस्मत होते हैं क्योंकि अक्सर इन्हें पेट से जुड़ी समस्याओं जैसे कि एसिडिटी, गैस, अपच आदि का सामना करना पड़ता है। इसके अलावा त्वचा से संबंधित बीमारियां भी इन्हें घेर लेती हैं।

ये लोग बहुत रचनात्मक होते हैं। साथ ही बुद्धिमान भी होते हैं। यही वजह है कि भीड़ में चलना इन्हें कभी पसंद नहीं आता है। ये हर काम को एक अलग ढंग से करने का प्रयास करते हैं और अंततः अपनी मेहनत व लगन से सफलता प्राप्त करते हैं।

 

S नाम वाले लोगों का स्वभाव

ये लोग जितने हँसमुख और मिलनसार होते हैं, उतने ही गुस्सैल भी होते हैं। इन्हें ज़रा-ज़रा सी बात पर गुस्सा आ सकता है। लेकिन चीज़ों को समझते ही शांत भी हो जाते हैं।

ये लोग ख़ुद पर नियंत्रण करना अच्छे से जानते हैं, फिर वो चाहे बातों के मामले में हो या फिर कोई काम करने के मामले में हो।

ये लोग थोड़े स्वाभिमानी किस्म के होते हैं, इसलिए किसी की मदद लेना ज़्यादा पसंद नहीं करते हैं। आमतौर पर इनकी कोशिश यही रहती है कि ये जो भी काम कर रहे हैं, उसे अपने बलबूते पर ही पूरा करें।

कई बार तो ये लोग अपने स्वभाव से पूरी महफ़िल लूट लेते हैं और लोगों पर अपनी एक अलग छाप भी छोड़ते हैं।

 

इसी आशा के साथ कि, आपको यह लेख भी पसंद आया होगा Omasttro के साथ बने रहने के लिए हम आपका बहुत-बहुत धन्यवाद करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: