शतभिषा नक्षत्र का फल

शतभिषा नक्षत्र का चिह्न

वैदिक ज्योतिष के अनुसार शतभिषानक्षत्र का स्वामी राहु ग्रह है। यह वृत्त, तारे या फूल की तरह दिखायी देता है। इस नक्षत्र वरुण और लिंग नपुंसक है। यदि आप शतभिषानक्षत्र से संबंध रखते हैं, तो उससे जुड़ी अनेक जानकारियाँ जैसे व्यक्तित्व, शिक्षा, आय तथा पारिवारिक जीवन आदि यहाँ प्राप्त कर सकते हैं।

शतभिषा नक्षत्र के जातक का व्यक्तित्व

आप “सत्यमेव जयते” की नीति पर चलते हैं यानी सत्य के लिए प्राण देने में भी संकोच नहीं करते। आपके कुछ जन्मजात सिद्धांत हैं और अपने जीवन के इन सिद्धांतों से न हट पाने के कारण आपका लोगों से प्रायः टकराव होता रहता है। आप सत्यनिष्ठ, सत्य के लिए बलिदान देने से भी पीछे न हटने वाले और निःस्वार्थ प्रवृत्ति के हैं। आपका हृदय अत्यंत कोमल है और आपमें धार्मिकता का पुट भी है। वैसे आपका लक्ष्य निःस्वार्थ सेवा करना है और आप धार्मिक मान्यताओं को अपनाने पर ज़ोर देते हैं। आप हिम्मती हैं व आपके अंदर साहस भरा हुआ है। आपके इरादे काफ़ी मज़बूत और बुलंद हैं और एक बार आप जो तय कर लेते हैं उसे पूरा करके ही दम लेते हैं। आपको अपनी ज़िम्मेदारियों का भी एहसास है इसलिए आप अपनी ज़िम्मेदारी को पूरी तरह निभाने की कोशिश करते हैं। आपकी सोच राजनीति से प्रेरित है और आप राजनीतिक दाँव-पेंच में भी माहिर हैं। ज़्यादा शारीरिक श्रम करने में आप विश्वास नहीं करते हैं अर्थात शारीरिक शक्ति की अपेक्षा बुद्धि का इस्तेमाल अधिक करने में भरोसा करते हैं। आपकी विचारधारा स्वच्छंद है अत: साझेदारी की अपेक्षा स्वतंत्र रूप से कार्य करना आपको ज़्यादा अच्छा लगता है। आपके स्वभाव में थोड़े आलस्य का समावेश भी है और आप मौज-मस्ती करना पसंद करते हैं। आराम की ज़िन्दग़ी जीने में आपको आनंद आता है। मशीन की तरह काम करना आपको पसंद नहीं है बल्कि आप स्वतंत्र रूप से अपने अंदाज़ में जीवन का लुत्फ़ लेना चाहते हैं। किसी भी स्थिति में आप घबराते नहीं हैं बल्कि परिस्थितियों एवं परेशानियों का डटकर मुक़ाबला करना पसंद करते हैं। आपके अन्दर का विश्वास और ताक़त आपको बल प्रदान करता है जिससे आप कठिन-से-कठिन स्थिति पर विजय प्राप्त करते हैं। आपके व्यक्तित्व की एक विशेषता यह भी है कि अगर कोई आपसे शत्रुता करता है तो आप उसे पराजित करके ही दम लेते हैं। वैसे तो आपको क्रोध नहीं आता लेकिन जब आता है तब आपको रोक पाना कठिन होता है। लेकिन कोमल हृदय और बुद्धिमान होने के कारण आपका ग़ुस्सा शीघ्र ही काफ़ूर भी हो जाता है। एक बार आप जो निर्णय कर लेते हैं फिर उससे पीछे नहीं हटते। जीवन के हर क्षेत्र में आप सफल होते हैं क्योंकि आप सक्षम व मेधावी हैं। आप दिखावेबाज़ी में विश्वास नहीं करते और प्रदर्शन करने से अक्सर बचते हैं, परंतु बातचीत के दौरान सामने वाला आपकी प्रतिभा का क़ायल हो जाता है। आपकी स्मरण-शक्ति काफ़ी विलक्षण है और एक बार आप जो पढ़ लेते हैं वो लंबे समय तक आपको याद रहता है। आपमें सहित्यिक प्रतिभा छुपी हुई है और बहुत जल्दी आपकी यह प्रतिभा प्रकाश में भी आ जाती है। अपने अच्छे स्वभाव के कारण आप समाज में लोकप्रिय हैं।

शिक्षा और आय

आप ऊँची-से-ऊँची शिक्षा प्राप्त करने के योग्य हैं। मनोविज्ञान व स्पर्श-चिकित्सा के क्षेत्र में आप दक्षता प्राप्त कर सकते हैं। ज्योतिष शास्त्र के प्रति भी आपकी गहन रुचि है और आप एक अच्छे व सुलझे हुए विद्वान ज्योतिषी भी बन सकते हैं। आपमें चिकित्सा के क्षेत्र में नाम कमाने की भी क्षमता है। आप इलेक्ट्रीशियन, कीमोथेरेपी चिकित्सक, अंतरिक्ष यात्री, अंतरिक्ष वैज्ञानिक या ज्योतिषी, पायलेट, सैन्य कला प्रशिक्षक, फ़िल्म व दूरदर्शन से जुड़े कार्य, फ़िल्म अभिनेता व कलाकार, मॉडल, फ़ोटोग्राफ़र, विज्ञान के शिक्षक या लेखक, परमाणु भौतिकी से जुड़े क्षेत्र, औषधि निर्माण से जुड़े कार्य, वैद्य या शल्य चिकित्सक, मदिरा निर्माण या मादक पदार्थों से जुड़े कार्य, प्लास्टिक या प्लास्टिक निर्माण से जुड़े कार्य, पेट्रोलियम से जुड़े कार्य, योग शिक्षक, आविष्कारकर्ता आदि कार्य करके सफल जीवन जी सकते हैं।

पारिवारिक जीवन

संभव है कि आपको प्रियजनों से काफ़ी समस्याओं का सामना करना पड़े। अपनी उदारता के कारण आप बिना मांगे सबकी सहायता करने को तत्पर रहते हैं परंतु स्वयं आपको मानसिक परेशानियों से गुज़रना पड़ता है। विशेषतः भाईयों से आपका मनमुटाव हो सकता है। माता-पिता से आपको पूर्ण स्नेह प्राप्त होगा। आपका वैवाहिक जीवन संतुष्टिपूर्ण रहेगा क्योंकि आप अपने जीवनसाथी से निःस्वार्थ प्रेम करेंगे। आपके जीवनसाथी को उदारता की प्रतिमूर्ति कहा जा सकता है वे परिवार का पूरा ख़्याल रखेंगे और बड़ों का भी ख़ूब सम्मान करेंगे। वे नेकी कर और दरिया में डाल वाली उक्ति पर चलकर जीवन जिएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: