Shukra Asta 2022: साल 2022 में शुक्र तारा दो बार अस्त होगा और यह मौसम के साथ-साथ कई राशि के जातकों के लिए अशुभ प्रभाव देगा। अर्थात कई राखि वालों के जीवन में हर तरह के सुखों में कमी आने की संभावना है। वहीं इन जातकों के खर्चे बढ़ सकते हैं, तथा वैवाहिक जीवन में उतार-चढ़ाव बना रह सकता है।

तथा शुभ फलों में कमी आ सकती है। तो आइए जानते हैं शुक्र ग्रह के अस्त होने का शुभ और अशुभ प्रभाव किन राशि के लोगों पर हो सकता है। साथ ही जानेंगे वे लकी राशियां जिन पर शुक्र अस्त होने का कोई अशुभ प्रभाव नहीं होगा।

शुक्र की चाल

19 दिसंबर 2021 को शुक्र ग्रह मकर राशि में वक्री हुआ था। यानी टेढ़ी चाल से चलने लगा था। फिर आगे चलने की बजाय ये ग्रह 30 दिसंबर को एक राशि पीछे यानी धनु में चला गया। अब वक्री रहते हुए ही पहले अस्त हुआ और फिर 11 जनवरी को उदय हो जाएगा। इसके बाद महीने के आखिरी में मार्गी होगा। यानी सीधी चाल से चलेगा। आमतौर पर ये ग्रह एक राशि में 27 दिन तक रहता है। लेकिन इस बार ये धनु राशि में कुल 98 और मकर में 54 दिन रहा।

ठंड बढ़ने और बारिश की संभावना

ज्योतिष में शुक्र को वैभव, भौतिक सुख, संपन्नता, भोग विलास, प्रेम और धन-संपत्ति का कारक माना जाता है। शुक्र के अस्त होने से अर्थव्यवस्था पर असर पड़ेगा। इस दौरान अर्थव्यस्था जुड़ी बड़ी योजनाओं में रुकावटें या देरी होगी। शेयर मार्केट में भी इस दौरान काफी हलचल दिख सकती है। निवेश बहुत सावधानी से करना होगा। कपड़े के बिजनेस में मंदी आएगी। साथ ही देश के कुछ हिस्सों में बर्फबारी और बारीश आने की संभावना है। प्राकृतिक आपदा की भी आशंका है।

मिथुन, कन्या, मकर और कुंभ के लिए अशुभ

भविष्यवक्ता आचार्य ओम त्रिवेदी जी ने बताया कि धनु राशि में शुक्र ग्रह के अस्त होने से इसका प्रभाव कम हो जाएगा और शुभ फलों में भी कमी आने लगेगी। शुक्र विलासिता का कारक ग्रह है। इसलिए इसके प्रभाव से सभी राशि वालों को हर तरह के सुख में कमी आ सकती है। शुक्र के कारण कई लोगों के वैवाहिक जीवन में उतार-चढ़ाव आ सकते हैं। शुक्र के अस्त होने से मिथुन, कन्या, मकर और कुंभ राशि वाले लोगों के लिए समय ठीक नहीं रहेगा। इन 4 राशियों के लोगों के कामकाज में रुकावटें आ सकती है। धन हानि और खर्चा बढ़ने के योग हैं। इनके अलावा मेष, वृष, कर्क, सिंह, तुला, वृश्चिक, धनु और मीन राशि वाले लोगों पर शुक्र अस्त होने का अशुभ असर नहीं होगा।

(Disclaimer: इस स्टोरी में दी गई सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं। Omasttro.in इनकी पुष्टि नहीं करता है। इन तथ्यों को अमल में लाने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: