वर्ष 2022 का मई महीना राशिचक्र की दूसरी राशि वृषभ के लिए कई मायनों में बेहद महत्वपूर्ण रहने वाला है। क्योंकि इस महीने दो महत्वपूर्ण ग्रह वृषभ में राशि परिवर्तन करते हुए अपना प्रभाव दिखाएंगे। वृषभ राशि पृथ्वी तत्व की राशि होती है, जिनके स्वामी शुक्र ग्रह हैं।

वृषभ में इन दोनों ग्रहों का होगा स्थान परिवर्तन  

  • अब इसी राशि में बुद्धि के देवता बुध 10 मई, 2022 को शाम 04 बजकर 45 मिनट पर वक्री होंगे।
  • जिसके 2 दिन बाद ही बुध एक बार फिर स्थान परिवर्तन करते हुए 13 मई, 2022 की दोपहर 12 बजकर 56 मिनट पर वृषभ राशि में ही अस्त हो जाएंगे।
  • इसके बाद सूर्य देव भी 15 मई, रविवार की सुबह 5 बजकर 23 मिनट पर अपना गोचर वृषभ राशि में ही करते हुए, वहां मौजूद बुध के साथ युति करेंगे।

 

सूर्य-बुध की युति से होगा “बुध आदित्य योग”

ज्योतिष में बुध और सूर्य की युति से “बुध आदित्य योग” का निर्माण होता है। ऐसे में वृषभ राशि में इस योग का बनना मेष राशि से लेकर मीन राशि के सभी जातकों को प्रभावित करेगा। आइये अब विस्तार से जानें वृषभ में दो ग्रहों का स्थान परिवर्तन आपकी राशि के लिए क्या प्रभाव लेकर आएगा।

 

12 राशियों के लिए इस युति का राशिफल 

मेष राशि: 

बुध आदित्य योग आपकी राशि के द्वितीय भाव में बनेगा। जिसके चलते आपको हर कार्य को तसल्लीबख्श करने की ज़रूरत होगी। साथ ही कोई भी निर्णय जल्दबाजी में लेने से बचें, अन्यथा बाद भी नुकसान हो सकता है। खर्चें बढ़ सकते हैं, इसलिए खरीदारी सोच-समझकर करें। प्रेम संबंधों की बात करें तो उसमें स्थितियां उतार-चढ़ाव भरी रहेंगी, थोड़ी सावधानी बरतें। शादीशुदा जातकों को भी अपनी भाषा में मधुरता लाने की हिदायत दी जाती है।

वृषभ राशि: 

बुध और सूर्य का स्थानपरिवर्तन आपकी ही राशि में होने जा रहा है। इसलिए आपको इस दौरान सबसे अधिक अनुकूल फल मिलेंगे। जिससे करियर में आप विकास करेंगे। खासतौर से व्यापारी जातकों को अपने व्यापार में विस्तार के लिए सुनहरे अवसर मिलने की संभावना है। शिक्षा की बात करें तो इस राशि के छात्रों को बुध देव की कृपा से अपनी परीक्षा में अच्छे अंक मिलेंगे। आर्थिक तंगी से जुड़ी यदि कोई समस्या आ रही थी तो, आपको उससे भी निजात मिलने वाली है।

मिथुन राशि: 

आपके द्वादश भाव में ये योग बनेगा, जिसके चलते आपके आलस में वृद्धि देखी जाएगी। इसलिए आलस का त्याग करते हुए खुद को अपने कार्य और लक्ष्यों की ओर केंद्रित रखें। अन्यथा कार्यस्थल पर इसका प्रभाव आपकी कार्यक्षमता में गिरावट ला सकता है। आर्थिक जीवन में कुछ भी बड़ा निवेश करने से पहले अच्छी तरह सोच-विचार करें। वहीं छात्रों को बुध देव मेहनत के अनुसार ही फल देने का कार्य करेंगे, इसलिए शुरुआत से ही अपनी मेहनत जारी रखें।

कर्क राशि: 

बुध और सूर्य का स्थान परिवर्तन आपकी राशि के एकादश भाव में होगा। इसके परिणामस्वरूप आपको सबसे अधिक कार्यक्षेत्र से संबंधित अनुकूल परिणाम मिलने की उम्मीद है। खासतौर से वो जातक जो नौकरी की तलाश में हैं, उन्हें इस दौरान किसी अच्छे संस्थान से नौकरी का सुनहरा अवसर मिलेगा। व्यापार में भी आपकी उन्नति होगी। धन पक्ष के लिहाज से स्थितियां बेहतर रहेगी। वहीं प्रेम संबंधों की बात करें तो आपका रिलेशन परवान चढ़ेगा।

सिंह राशि: 

बुध आदित्य योग आपके दशम भाव में बन रहा है, जिसके चलते सबसे अधिक आपकी कार्यक्षमता में वृद्धि होगी। इससे आप कार्यस्थल पर बड़ा पद व मान-सम्मान प्राप्त करने में सफल रहेंगे। यदि आप शादीशुदा हैं तो आपके दांपत्य जीवन में भी अनुकूलता आएगी। धन पक्ष के लिहाज से आप अपने धन को संचय करने में सफल रहेंगे। पिता की सेहत में भी इस अवधि में सुधार दिखाई देगा।

 

कन्या राशि: 

यह युति आपके नवम यानी भाग्य भाव में हो रही है। जिसके चलते आपको भाग्य का भरपूर साथ मिलेगा और इससे आप अपने अलग-अलग माध्यमों से अच्छा धन प्राप्त करने में सक्षम रहेंगे। कार्यस्थल पर भी आपका इच्छा अनुसार स्थान परिवर्तन होने के योग बनेंगे। हालांकि आपको हर कार्य को करते समय थोड़ा अधिक धैर्य और संयम से काम लेने की आवश्यकता होगी।

तुला राशि: 

बुध सूर्य की युति आपके अष्टम भाव में बनेगी, जिसका असर सबसे अधिक छात्रों के ज्ञान में वृद्धि लेकर आएगा। यदि आप अपना कोई नया कार्य आरंभ करना चाहते हैं या कोई नया व्यवसाय शुरू करने के इच्छुक हैं तो उसके लिए अवधि अनुकूल रहेगी। कई जातक अचानक धन लाभ करने में भी सफल रहेंगे। हालांकि हर परिस्थिति में आपको गुस्सा करने से बचना होगा, अन्यथा आप अनुकूल अवसरों का लाभ उठाने से खुद को वंचित कर सकते हैं।

वृश्चिक राशि: 

ये बुध आदित्य योग आपके सप्तम भाव में बन रहा है। इसके परिणामस्वरूप यदि आप शादीशुदा हैं तो आपको कुछ प्रतिकूल फलों से दो-चार होना पड़ सकता है। क्योंकि इस दौरान आपके और जीवनसाथी के बीच छोटी-छोटी बातों को लेकर वाद-विवाद की स्थिति बनती दिखाई देगी, जिससे आप एक दूसरे पर तर्क-वितर्क करते नजर आएंगे। व्यक्तिगत जीवन में भी अपने करीबियों और परिजनों से आपके संबंध प्रभावित होंगे। इसलिए इस दौरान सबसे अधिक खुद को शांत रखना ही आपके लिए बेहतर रहेगा।

धनु राशि: 

सूर्य-बुध आपके षष्टम भाव में युति करेंगे, जिसके चलते आपको हर प्रकार का कर्ज लेने से अभी बचना होगा। साथ ही यदि आप कोई नया कार्य शुरू करना चाहते हैं तो ऐसा करने से भी बचें, अन्यथा हानि संभव है। इस दौरान आप कार्यस्थल पर आप अपने परिश्रम और तजुर्बे से कोई प्रमोशन हासिल करेंगे। परंतु उसके लिए आपको पहले से अधिक मेहनत और प्रयास करते रहने की जरूरत है।

मकर राशि: 

ये युति आपके पंचम भाव में बनेगी, जिसके चलते सबसे अधिक आपके प्रेम संबंध प्रभावित होने वाले हैं। इसलिए आपको खुद पर संयम रखने की सलाह दी जाती है। आपके प्रतिद्वंद्वी भी सक्रिय होंगे। ऐसे में आपको उनसे सतर्क रहते हुए अपनी मेहनत जारी रखने की आवश्यकता होगी। धन पक्ष की दृष्टि से आपको किसी माध्यम से अचानक कोई बड़ी धनराशि प्राप्त होने की उम्मीद है। परंतु किसी भी तरह की गैर-कानूनी गतिविधियों या शॉर्टकट को आपको अपनाने से बचना होगा।

कुंभ राशि: 

यह युति आपके चतुर्थ भाव में बनेगी, जिसके चलते सबसे अधिक नौकरीपेशा जातकों को उतार-चढ़ाव भरी परिस्थितियों से दो-चार होना पड़ सकता है। व्यापार से जुड़े जातकों को भी अपने अधीन कार्य कर रहे कर्मियों से आलोचनाओं का शिकार होना पड़ेगा। ऐसे में धैर्य रखें और जल्दबाजी में आकर कोई भी निर्णय लेने से बचें। खर्चों में वृद्धि भी आपको परेशान कर सकती है। परंतु प्रेम संबंधों में सफलता, आपको मानसिक तनाव से कुछ मुक्ति देने का कार्य करने वाली है।

मीन राशि: 

मीन राशि के लिए बुध-सूर्य की युति आपके तृतीय भाव में बन रही है। जिससे सबसे अधिक आप आर्थिक जीवन में लाभ प्राप्त करने में सफल रहेंगे। शिक्षा से जुड़े छात्रों को भी उन्नति में अपना अच्छा प्रदर्शन देने का अवसर मिलेगा। वहीं कार्य क्षेत्र पर नौकरी पेशा जातक मेहनत करते हुए, अपने वरिष्ठ अधिकारियों का ध्यान अपनी और आकर्षित करने में सक्षम होंगे। स्वास्थ्य में अनुकूल बदलाव आएगा। हालांकि आपको कोई भी बड़ा निर्णय लेने से पहले घर के सदस्यों से सलाह-मशवरा लेने की सलाह दी जाती है।

 

इसी आशा के साथ कि, आपको यह लेख भी पसंद आया होगा Omasttro के साथ बने रहने के लिए हम आपका बहुत-बहुत धन्यवाद करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: