Omasttro

चन्द्रराशिः मेष का साप्ताहिक राशिफल (31 अक्टूबर से 6 नवम्बर)
इस सप्ताह तृतीय भाव में मंगल की उपस्थिति आपको अपने अंदर ज़रूरी आत्मविश्वास की कमी की अनुभूति हो सकती है। जिस कारण आप कोई आवश्यक निर्णय भी नहीं ले सकेंगे। इसलिए आपको इस बात को याद रखना होगा कि बहुत-कुछ, आपके कंधों पर ही टिका हुआ है और आपको इसी बारे में सोचते हुए, समय पर सही और स्पष्ट फ़ैसले को लेने की ज़रूरत होगी। इस सप्ताह के मध्य में चन्द्रमा के दशम भाव से होते हुए द्वादश भाव में गोचर करने से आप अपने व्यापार में विस्तार करने के लिए किसी प्रकार का लोन या ऋण लेने का प्लान कर सकते हैं। हालांकि इस समय आपको बैंक या किसी अन्य संस्था से लोन भी मिल सकेगा, परंतु धन से जुड़े लेन-देन को करते समय, आपको शुरुआत से ही काफ़ी सावधानी बरतने की ज़रूरत होने वाली है। इस सप्ताह घर पर अचानक मेहमानों का आगमन परिवारिक माहौल में सकरात्मकता लेकर आएगा। जिसके कारण आपको सामान्य से अधिक समय घर पर बीताने और सदस्यों के साथ मौज-मस्ती करने का अवसर मिल सकेगा, इसके परिणामस्वरूप आपको घर की कई परिस्थितियों से अवसात होने में भी सफलता मिलेगी और आप सदस्यों के साथ मिलकर, घर से जुड़ी कई समस्याओं को दूर करने के लिए सही निर्णय लेते दिखाई देंगे। इस सप्ताह शनि के दशम में मार्गी होने के कारण आपके लिए कार्यक्षेत्र में चीज़ें पहले से वाक़ई काफी बेहतरी की ओर बढ़ती प्रतीत होंगी। ऐसे में अपनी इस कामयाबी के पीछे जिन छोटी-मोटे लोगों और कर्मियों की मेहनत शामिल है, उन्हें इस समय आपको स्वंय आगे बढ़कर, दुआ-सलाम करने की ज़रूरत होगी। क्योंकि इससे उनके साथ-साथ आपको भी इस समय, सकारात्मक प्रोत्साहन मिल सकेगा। इस राशि के वो जातक, जो पढ़ाई करने के लिए विदेश जाने के इच्छुक थे, उन्हें इस सप्ताह और अधिक प्रयास करने की ज़रूरत होगी। क्योंकि संभव है कि किसी दस्तावेज़ की कमी के कारण, आपको निराशा हाथ लगें। ऐसे में अगले मौके तक, निरंतर प्रयास करते हुए, उसे अपने हाथ से नहीं जाने देने की कोशिश करें। उपाय: कुंवारी कन्याओं को लाल चूड़ी दान करें।

 

अंक ज्योतिष Shivvi Astrology द्वारा अपना मूलांक , भाग्यांक , नामंक जाने और अपने जीवन के शुभ दिन , लक्की दिनांक , लक्की तारीख के बारे में जाने 

चन्द्रराशिः वृष का साप्ताहिक राशिफल (31 अक्टूबर से 6 नवम्बर)
कार्य स्थल पर काम का दबाव बढ़ने के साथ ही आप इस सप्ताह मानसिक उथल-पुथल और दिक़्क़त महसूस करेंगे। क्योंकि शुरुआत में ही नवम भाव में उपस्थित शनि की चन्द्रमा के साथ युति होगी, जिसके कारण आपके स्वभाव में भी चिड़चिड़ापन दिखाई देगा। इस सप्ताह घर के बड़े आपको ये समझाने का प्रयास करेंगे कि यदि आपको लगता है कि आपका धन व्यर्थ ही खर्च हो रहा है तो, आपको सही और असरदार बजट प्लान बनाने की जरुरत है। परंतु मंगल के द्वितीय में होने से अपने अहम के आगे आप उनकी बातों को नज़रअंदाज़ कर सकते हैं, जिससे भविष्य में आपको हानि होगी। इस सप्ताह समाज के कई बड़े लोगों से आपकी मुलाक़ात संभव है। ऐसे में आपको भी इस अवसर का उचित लाभ उठाते हुए, स्वंय उसके लिए प्रयास करने होंगे। क्योंकि मध्य समय में चन्द्रमा दशम भाव में होंगे। ऐसे में ये मुलाकात आपको समाज में पद-प्रतिष्ठा के साथ-साथ, परिवार में भी मान-सम्मान दिलाने का कार्य करेगी। जो लोग साझेदारी में व्यापार कर रहे हैं, उन्हें सलाह दी जाती है कि, आपको इस दौरान कुछ गलत होने पर चीजों को स्पष्ट रखने या बाहर निकलने की रणनीति की योजना बनाने की आवश्यकता हो सकती है, क्योंकि यह सप्ताह साझेदारी के लिए तभी ज्यादा फलदायी सिद्ध होगा, जब आप स्वयं भी व्यापार में विस्तार के लिए प्रयास करते दिखाई देंगे। इस सप्ताह आपको अपने अध्यापकों से अच्छे संबंध बनाकर रखने होंगे, क्योंकि ऐसी संभावना है कि वह आपसे खुश हो जाएं और उसका प्रभाव शिक्षा के क्षेत्र में आपके हित में कार्य करेगा। कई छात्रों को इस दौरान, अपने स्कूल या कॉलेज से स्कॉलरशिप मिलने के भी योग बन रहे हैं। उपाय: रक्त पुष्प अर्पित कर मां कात्यायनी देवी की पूजा करें।

हमारे विद्वानों द्वारा अपनी शनी रिपोर्ट , करियर रिपोर्ट , आर्थिक रिपोर्ट से अपना जीवन सरल और तरक्की के रास्ता जाने ! अभी आर्डर करे 

 

चन्द्रराशिः मिथुन का साप्ताहिक राशिफल (31 अक्टूबर से 6 नवम्बर)
इस सप्ताह चन्द्रमा की लग्न पर दृष्टि होने से शुरूआती समय में आपके मन में नकारात्मक विचार हावी रहेंगे। जिसके कारण अगर आपके साथ कुछ अच्छा भी होगा, तो भी आप उसे नकारात्मक दृष्टि से ही देखते दिखाई देंगे। इसके परिणामस्वरूप, आप खुद को कई अच्छे और लाभ वाले अवसरों से वंचित कर सकते है। इसलिए अपने इस स्वभाव में सुधार करें। इसके लिए आप योग और ध्यान का सहारा भी लें सकते हैं। इस सप्ताह के मध्य भाग्य भाव में चन्द्रमा का गोचर होते ही आपको कई माध्यमों से लगातार धन लाभ होता रहेगा। ऐसे में इस सप्ताह की शुरुआत में ही, आपको अपने आर्थिक जीवन में एक अच्छा प्लान व योजना बनाकर चलने की सलाह दी जाती है। क्योंकि ऐसा करके ही आप काफी हद तक अपने धन को खर्च करने से बचाने के साथ ही, उसे संचय करने में भी सफल रहेंगे। इस सप्ताह घर पर अचानक, मेहमानों का आगमन संभव है। जिससे पारिवारिक वातावरण में शांति आ सकेगी। इस दौरान आपको घर पर स्वादिष्ट भोजन खाने का मौका मिलेगा, साथ ही आपका शाम का ज़्यादातर समय मेहमानों के साथ ही गुजरेगा। वहीं अंतिम तिमाही में चन्द्रमा के दशम भाव में प्रवेश करने से आपको अपने वरिष्ठों और उच्च अधिकारियों से पूर्ण प्रशंसा और सहयोग मिलेगा। इसके अलावा आपके द्वारा की गई यात्राएं भी, इस दौरान आपको बहुत लाभ पहुंचाएंगी। क्योंकि आपकी कुंडली में कई शुभ ग्रहों का प्रभाव, आपके हित में दिखाई दे रहा है। इस सप्ताह कई छात्रों के मन में विदेश जाकर, आगे की पढ़ाई करने की इच्छा जागृत हो सकती है। हालांकि अपनी इस इच्छा के बारे में अपने घरवालों से बातचीत करने से पहले आपको, इस बारे में सबसे पहले खुद को हर रूप से सुनिश्चित करने की आवश्यकता होगी। इसके लिए इस ओर प्रयास करते हुए, इस बारे में हर प्रकार से जानकारी जुटाए। उपाय: श्री गणपति अथर्वशीर्ष का पाठ करें।

 

अंक ज्योतिष Shivvi Astrology द्वारा अपना मूलांक , भाग्यांक , नामंक जाने और अपने जीवन के शुभ दिन , लक्की दिनांक , लक्की तारीख के बारे में जाने 

चन्द्रराशिः कर्क का साप्ताहिक राशिफल (31 अक्टूबर से 6 नवम्बर)
स्वास्थ्य के लिहाज़ से इस समयावधि में आप प्राणायाम करके अपनी कई परेशानियों को दूर कर सकते हैं। ऐसे में अपनी ऊर्जा को इस सप्ताह बहुत सारे कामों पर लगाने की बजाय, केवल उन कामों पर लगाएँ जो जरूरी हो। इस सप्ताह आपके द्वारा धन की बचत को लेकर जो भी प्रयास किया जाएगा, उसमें आपको सफलता ही प्राप्त होगी। क्योंकि मंगल द्वादश भाव में होंगे। इससे आप कुछ बैचैन हो सकते हैं, परंतु आपको ये समझने की ज़रूरत भी होगी कि विपरीत परिस्थितियां हमेशा के लिए नहीं होती है। इस सप्ताह के मध्य लग्न पर चन्द्रमा की पूर्ण दृष्टि से आपका ज्ञान आपके चारों ओर के लोगों को प्रभावित करेगा। खासतौर से इस सप्ताह आप अपने घर के पास के किसी विपरीत लिंगीय व्यक्ति को अपने अच्छे स्वभाव के कारण, अपनी ओर आकर्षित करने में सफल भी होंगे। कार्यक्षेत्र से जुड़ी यात्रा के लिहाज़ से भी, ये सप्ताह आपके लिए शुभ परिणाम लेकर आने वाला साबित होगा। क्योंकि इन यात्राओं से आपको नए अवसर प्रदान होंगे। इसके अलावा वो जातक जो आयात और निर्यात के क्षेत्र से ताल्लुक रखते हैं, उनके लिए सप्ताह का अंत भी किसी यात्रा से धन प्राप्ति होने की संभावना बनाएगा। क्योंकि इस दौरान चन्द्रमा आपके भाग्य यानी नवम भाव में होंगे। इस सप्ताह अपने निजी जीवन में स्थितियों के सामान्य होने से, आपका मन पढ़ाई-लिखाई के कामों में लगेगा। इससे आपको अपना ध्यान भ्रमित होने से भी निजात मिल सकेगी और आप इस परिणामस्वरूप, अपनी परीक्षा में सफलता की ओर बढ़ते दिखाई देंगे। उपाय: चांदी का चौकोर टुकड़ा लाल कपड़े में लपेटकर अपने पास रखें।

चन्द्रराशिः सिंह का साप्ताहिक राशिफल (31 अक्टूबर से 6 नवम्बर)
एक्सरसाइज या योग को अपने जीवन का हिस्सा, इस दौरान आप बना सकते हैं। क्योंकि इस समय कई ग्रह-नक्षत्रों की अनुकूल चाल, आपको अपने स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान देने के लिए प्रोत्साहन देगी। इसलिए इसका उत्तम व उचित लाभ उठाए। इस सप्ताह शनि की द्वादश भाव पर सप्तम दृष्टि होने के कारण आपके लिए बेहद ज़रूरी होगा कि भावनाओं में बहकर आपको अपने करीबी लोगों पर इतना खर्चा नहीं करना होगा, जिससे आपको बाद में आर्थिक परेशानियों से दो-चार होना पड़े। इसलिए आपके लिए बेहतर रहेगा कि आप इस हफ्ते केवल और केवल एक सही बजट पालन के साथ ही, अपना छोटे से छोटा खर्चा करें। क्योंकि इससे ही आप काफी हद तक, अपने धन की बचत कर सकेंगे। पारिवारिक जीवन में सप्ताह के अंत में इस राशि के लोगों को बेहद अच्छे फल मिलने की उम्मीद है। क्योंकि इस दौरान चन्द्रमा की पूर्ण दृष्टि द्वितीय भाव पर होने से, संभावना है कि घर-परिवार में किसी नए या नन्हे मेहमान का आगमन होगा, जिससे पारिवारिक वातावरण में खुशहाली आएगी। इस दौरान घर के लोगों में भाईचारा और आपसी प्रेम भी साफ़ दिखाई देगा। इस पूरे ही सप्ताह आप अपने पेशेवर जीवन में, महान उपलब्धियाँ हासिल करने में कामयाब रहेंगे। इसके अलावा आपकी राशि में मंगल की दशम भाव में उपस्थिति, यह भी दर्शाती है कि आप अपने कार्यस्थल पर मेहनती, पहले से अधिक उत्पादक और कुशल होकर उभरेंगे और आपका यही कूटनीतिक और चतुराई भरा व्यवहार, आपको कठिन परिस्थितियों से आसानी से निपटने में मदद करेगा, साथ ही वरिष्ठ प्रबंधन द्वारा आपको प्रशंसा भी दिलाएगा। ये हफ्ता बहुत से उन छात्रों के लिए सकारात्मक रहने वाला है, जो सरकारी परीक्षा की तैयारी कर रहे थे। क्योंकि इस दौरान कई ग्रहों का स्थान परिवर्तन, विद्यार्थियों को भाग्य का साथ देगा और उन्हें अपने हर क्षेत्र में भरपूर सफलता मिलेगी। उपाय: रुद्राष्टकम का पाठ करें।

 

हमारे विद्वानों द्वारा अपनी शनी रिपोर्ट , करियर रिपोर्ट , आर्थिक रिपोर्ट से अपना जीवन सरल और तरक्की के रास्ता जाने ! अभी आर्डर करे 

चन्द्रराशिः कन्या का साप्ताहिक राशिफल (31 अक्टूबर से 6 नवम्बर)
स्वास्थ्य राशिफल के अनुसार इस सप्ताह का पहला भाग स्वास्थ्य के नज़रिये से थोड़ा बेहतर ही रहने वाला है। हालांकि दूसरे भाग में चन्द्रमा के छठे भाव में गोचर करते ही आपको कुछ बातों पर खास विशेष रुप से ध्यान देना होगा, जैसे: समय मिलने पर पार्क में कसरत या योग करें व रोज़ाना नियमित रूप से सुबह-शाम करीब 30 मिनट तक चलें। इस सप्ताह आपको हर प्रकार के अपने निवेश और उससे जुड़ी तमाम भविष्य की योजनाओं को, गुप्त रखने की सबसे अधिक ज़रूरत होगी। अन्यथा आपकी इन योजनाओं से कोई आपका करीब अपना फ़ायदा उठाते हुए आपको धन हानि दे सकता है। यदि आप शादी योग्य हैं और कहीं आपका रिश्ता जुड़ा था, तो मंगल के वक्री गोचर करने से संभव है कि किसी कारणवश वो रिश्ता या तो टूट सकता है, या उसमें कुछ परेशानी उत्पन्न हो सकती है। इससे परिवार में भी चिंता का माहौल बनेगा, जिसका सबसे अधिक असर आपके मानसिक तनाव में वृद्धि करेगा। अपने पेशेवर क्षेत्र में आपको बहुत-सी बाधाओं से दो-चार होना पड़ेगा, जिससे निकल पाना भी आपके लिए आसान कार्य नहीं रहने वाला है। इसलिए इस सप्ताह शुरुआत से ही खुद को शांत रखते हुए, हर परिस्थितियों का सामना करें। तभी आप कुछ न कुछ हल निकालने में सफल रहेंगे। इस सप्ताह बुध द्वितीय भाव में होंगे। ऐसे में आपको ज़रूरत होगी कि अपने गुरुओं के ज्ञान का लाभ उठाते हुए, उनकी मदद व सहयोग लेने में बिलकुल भी न हिचकिचाएं। क्योंकि इस दौरान उनका ज्ञान और अनुभव ही आपको विषयों को समझने में आपकी मदद करेंगे, जिससे आप भविष्य की हर परीक्षा में बेहतर प्रदर्शन दे सकेंगे। उपाय: दक्षिणा सहित ब्राह्मणों को अपने घर में भोजन खिलाए।

 

अंक ज्योतिष Shivvi Astrology द्वारा अपना मूलांक , भाग्यांक , नामंक जाने और अपने जीवन के शुभ दिन , लक्की दिनांक , लक्की तारीख के बारे में जाने 

चन्द्रराशिः तुला का साप्ताहिक राशिफल (31 अक्टूबर से 6 नवम्बर)
इस राशि के जातकों को इस सप्ताह की शुरुआत में चन्द्रमा के तृतीय भाव में होने से छोटी-छोटी स्वास्थ्य समस्याओं के अलावा, कोई भी बड़ा रोग होने की आशंका न के बराबर ही रहेगी। हालांकि कोई भी मौसमी बीमारी होने पर घर पर स्वयं अपना इलाज न करते हुए, आपको बिना डॉक्टर की सलाह के दवाई नहीं खाने की हिदायत दी जाती है। इस सप्ताह जिस तेजी से आपकी आमदनी में वृद्धि होगी, उतनी ही तेजी से वो धन आपकी मुट्ठियों से आसानी से सरकता भी दिखाई देगा। हालांकि बावजूद इसके मध्य समय में चन्द्रमा के चतुर्थ भाव में गोचर करते ही आपको इस पूरे ही समय सुख की अनुभूति होगी, जिससे आपको किसी भी प्रकार की आर्थिक तंगी से दो-चार नहीं होना पड़ेगा। इस सप्ताह परिवार के सदस्यों का, आपके जीवन में विशेष महत्व होगा। जिसके कारण आप उनके जीवन के कई महत्वपूर्ण निर्णयों में, उनसे सलाह-मशवरा लेते दिखाई देंगे। साथ ही आप में से कुछ जातक, गहने या घरेलू सामान की खरीदारी भी कर सकते हैं। इस सप्ताह मंगल के नवम भाव में होने से आपको करियर में आगे बढ़ने के लिए अपने गुरुओं और बड़े-बुजुर्गों का संरक्षक नहीं प्राप्त होगा, बल्कि आशंका है कि आपका उनके साथ विचारों का मतभेद उत्पन्न हो। इससे आपको इस सप्ताह अच्छी-ख़ासी परेशानी हो सकती है। जिस प्रकार एक छात्र के लिए जितनी ज़रूरी शिक्षा होती है, उतरनी ही ज़रूरी बेहतर शरीर के लिए नींद भी होती है। परन्तु ज़रुरत से ज़्यादा सोना इस सप्ताह कई छात्रों की सेहत के लिए नुक़सानदायक हो सकता है। क्योंकि बुध आपके लग्न में होंगे। इसलिए इस बात का शुरुआत से ही ध्यान रखें। उपाय: मां दुर्गा देवी को लाल पुष्प अर्पित करें।

चन्द्रराशिः वृश्चिक का साप्ताहिक राशिफल (31 अक्टूबर से 6 नवम्बर)
इस सप्ताह आपको सलाह दी जाती है कि काम के साथ-साथ अपने स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के लिए भी कुछ समय ज़रूर निकालें। क्योंकि ये समय आपकी सेहत के लिए बेहतर दिखाई दे रहा है। इसके साथ ही इस सप्ताह शनि के तृतीय भाव में होने से आप पर काम का बोझ बढ़ सकता है। परंतु आप अपने दिमाग़ पर इस कार्यक्षेत्र के दबाव को हावी नहीं होने देंगे। अगर आप सूझ-बूझ से काम लें तो इस सप्ताह चन्द्रमा के द्वितीय भाव में होने पर आप अतिरिक्त धन कमा सकते हैं। हालांकि इसके लिए आपको सही रणनीति बनाने और उसी अनुसार, कार्य करने की ज़रूरत होगी। वहीं लग्नेश मंगल का अष्टम भाव में होना आपके स्वभाव के कारण पारिवारिक वातावरण में अशांति देगा। ऐसे में आपको अपने व्यस्त कार्यों से थोड़ा समय निकलते हुए, अपने घर-परिवार के मुद्दों को हल करने की कोशिश करनी पड़ सकती है। हालांकि बावजूद इसके आप इस पूरे ही सप्ताह परिवार में चल रही तना-तनी के चलते, मानसिक रूप से बहुत ज्यादा चिंतित दिखाई देंगे। कार्यक्षेत्र से जुड़ी यात्रा के लिहाज़ से भी ये सप्ताह आपके लिए शुभ परिणाम लेकर आने वाला साबित होगा। क्योंकि बुध इस दौरान आपके द्वादश भाव में होंगे। ऐसे में इन यात्राओं से आपको नए अवसर प्रदान होंगे। इसके अलावा वो जातक जो आयात और निर्यात के क्षेत्र से ताल्लुक रखते हैं, उनके लिए भी किसी यात्रा से धन प्राप्ति होने की संभावना बन रही है। इस सप्ताह कई छात्रों के ऊपर, उनके करियर को लेकर घरवालों और रिश्तेदारों का अतिरिक्त दबाव होगा। जिससे वो अपना मन शिक्षा में नहीं लगा सकेंगे। ऐसे में आपको ये बात समझने की ज़रूरत होगी कि अगर अपने करियर का चुनाव,आपके द्वारा ही किया जाना है तो, आपको किसी भी तरह के दबाव में आकर कोई भी फैसला नहीं लेना चाहिए। इसलिए खुद भी इस बात समझें और ज़रूरत पड़ने पर, इस बारे में अपने घरवालों के साथ बैठकर उनसे बातचीत भी करें। उपाय: लाल चंदन का टीका अपने माथे पर लगाएं।

 

अंक ज्योतिष Shivvi Astrology द्वारा अपना मूलांक , भाग्यांक , नामंक जाने और अपने जीवन के शुभ दिन , लक्की दिनांक , लक्की तारीख के बारे में जाने 

चन्द्रराशिः धनु का साप्ताहिक राशिफल (31 अक्टूबर से 6 नवम्बर)
इस सप्ताह बुध और शुक्र की पूर्ण दृष्टि एक-साथ आपके छठे भाव पर होने से, संभव है कि आपको स्वास्थ्य कष्ट के कारण कुछ समस्या हो। ऐसे में हमेशा की तरह हर बीमारी का, घर पर ही उपचार करने से बचें और भूल से भी घरेलू नुस्खे अपना कर समय की बर्बादी न करें। अन्यथा सही इलाज मिलने में देरी के चलते आपकी समस्या बढ़ सकती है। फिर मध्य सप्ताह के दौरान जब चन्द्रमा आपके लग्न से निकलकर द्वितीय भाव में प्रवेश करेंगे तब आपको हर प्रकार के अपने निवेश और उससे जुड़ी तमाम भविष्य की योजनाओं को गुप्त रखने की सबसे अधिक ज़रूरत होगी। अन्यथा आपकी इन योजनाओं से कोई आपका करीब, अपना फ़ायदा उठाते हुए आपको धन हानि दे सकता है। इस सप्ताह किसी बहुत ख़ास या करीबी व्यक्ति से मतभेद होने से, आपको परेशानी हो सकती है। इस दौरान आप उनके सामने खुलकर अपनी बातों को रखने में भी, पूरी तरह असमर्थ महसूस करेंगे। क्योंकि मध्य समय के बाद चन्द्रमा तृतीय भाव में प्रवेश करेंगे, जिससे आपको अपने मानसिक तनाव में बढ़ोतरी से दो-चार होना पड़ेगा। हमेशा स्वंय को बेहतर समझना हमारी चतुराई नहीं बल्कि हमारा अहंकार होता है, जिससे हम अक्सर कई महत्वपूर्ण फ़ैसलों में ग़लतियाँ कर देते हैं। इससे हमे कई घातक परिणाम भी भुगतने पड़ते है और ऐसा ही इस सप्ताह आपके साथ भी आपके करियर में होने वाला है। इसलिए सावधान रहना ही आपके लिए एकमात्र विकल्प होगा। शिक्षा में आ रही पूर्व की सभी समस्याएँ इस सप्ताह बुध के छठे भाव पर दृष्टि करने से दूर होगी। जिससे आप अपनी शिक्षा के क्षेत्र में, अच्छा मुकाम प्राप्त करेंगे और आपको इससे अच्छे परिणामों की प्राप्ति करेंगे। क्योंकि इस समय आपका मन सहज रूप से, अपनी शिक्षा के प्रति झुकाव महसूस करेगा। जिसे देख आपके घरवाले भी आप पर, गर्व की अनुभूति करेंगे। हालांकि इस समय उन सभी लोगों से दूरी बनाकर रखें जो आपका ज़्यादातर समय बेकार के कामों में बर्बाद कर सकते हैं। उपाय: भगवान विष्णु को पीत वस्त्र अर्पित करें।

अंक ज्योतिष Shivvi Astrology द्वारा अपना मूलांक , भाग्यांक , नामंक जाने और अपने जीवन के शुभ दिन , लक्की दिनांक , लक्की तारीख के बारे में जाने 

चन्द्रराशिः मकर का साप्ताहिक राशिफल (31 अक्टूबर से 6 नवम्बर)
इस सप्ताह आपको अपने काम पर एकाग्रता बरक़रार रखने में दिक़्क़त महसूस हो सकती है। खासतौर से शुरूआती समय में जब चन्द्रमा आपकी ही राशि अर्थात आपके लग्न में प्रवेश करेंगे। क्योंकि इस दौरान आपकी सेहत पूरी तरह ठीक नहीं होगी। जिसके कारण आपको दवाई भी खानी पड़ सकती है, और इस कारण आपका स्वाद और स्वभाव सामान्य से कुछ खराब होने की आशंका रहेगी। पूर्व समय में आपके द्वारा किये गए हर प्रकार के प्रोपर्टी से जुड़े लेन-देन, इस सप्ताह के अंत तक पूरे होने की संभावना है। क्योंकि इस अवधि में चन्द्रमा आपके धन यानी द्वितीय भाव में गोहर करेंगे, जिससे आपको लाभ पहुँचेगा साथ ही आप इससे अपने भविष्य को सुरक्षित करने में भी काफी हद तक सफल रहेंगे। परिवार में आपको इस सप्ताह अपने भाई-बहनों का सहयोग प्राप्त नहीं होगा। इससे आपको कई महत्वपूर्ण निर्णय लेने में ख़ासा परेशानी आ सकती है। क्योंकि अंत में चन्द्रमा आपके तृतीय भाव में होंगे, ऐसे में आपके लिए बेहतर होगा कि उनके साथ अपने संबंध बेहतर करने के लिए, निरंतर प्रयास करते रहें। इस सप्ताह आपको ये समझने की ज़रूरत होगी कि, यदि आप अपनी योजनाओं को हर किसी के सामने खोलने में बिल्कुल नहीं हिचकते, तो आप अपनी परियोजना को ख़राब कर रहे हैं। क्योंकि संभव है कि आपके विरोधी भी आपकी इस कमज़ोरी का फ़ायदा उठाते हुए, आपको हानि पहुँचाए। आपकी राशि के छात्रों को इस दौरान बुध के कर्म भाव में होने से हर विषय में अनुकूल परिणाम प्राप्त होंगे। विशेषकर के मध्य भाग का समय, आपकी शिक्षा के क्षेत्रों में विशेष भाग्यवान साबित होने वाला है। क्योंकि इस समय आपका मन पढ़ाई में अधिक लगेगा, जिससे आप अपना प्रदर्शन अच्छा कर अपने शिक्षकों का दिल जीत पाने में सफल होंगे। उपाय: काले कुत्ते को दूध रोटी खिलाएं।

 

हमारे विद्वानों द्वारा अपनी शनी रिपोर्ट , करियर रिपोर्ट , आर्थिक रिपोर्ट से अपना जीवन सरल और तरक्की के रास्ता जाने ! अभी आर्डर करे 

चन्द्रराशिः कुंभ का साप्ताहिक राशिफल (31 अक्टूबर से 6 नवम्बर)
इस सप्ताह शनि के द्वादश भाव में होने और अपनी पूर्ण दृष्टि छठे भाव पर डालने से आप ख़ुद को बीमार महसूस कर सकते हैं। क्योंकि पिछले कुछ हफ़्तों से कार्यक्षेत्र पर बढ़ता काम का दबाव और बोझिल कामकाज आपको थका देगा, जिससे आपको अब परेशानी होगी। वहीं शुरुआत में ही चन्द्रमा के एकादश भाव में होने से आपके बेवजह के ख़र्चे इस पूरे ही सप्ताह, आपकी आर्थिक स्थिति को बहुत खराब कर सकते हैं। इसलिए जितना हो अपने धन को कम खर्च करते हुए केवल उन ही चीजों की ख़रीदारी करें, जो बेहद आवश्यक हो। अन्यथा भविष्य में आपको विपरीत परिणामों से दो-चार होना पड़ेगा। मध्य समय में चन्द्रमा के लग्न में प्रवेश करते ही आप घर के सदस्यों पर बेकार का शक करते और उनके इरादों के बारे में जल्दबाज़ी में फ़ैसला लेते दिखाई देंगे। परन्तु आपको ऐसा करने से बचना होगा। क्योंकि संभव है कि वे किसी प्रकार के दबाव में हों और उन्हें आपकी सहानुभूति व विश्वास की ज़रूरत हो। इस सप्ताह घर-परिवार में चल रहा कोई मसला, आपके करियर को बाधित कर सकता है। क्योंकि उससे आपकी ऊर्जा में कमी देखी जाएगी, जिसपर आपको समय रहते नियंत्रण रखते हुए, उसमें सुधार करने की सलाह दी जाती है। छात्रों के लिए सबसे ज्यादा ये सप्ताह उत्तम रहने वाला है। क्योंकि इस समय आपको अपनी मेहनत का फल मिलेगा और साथ ही कई ग्रहों की कृपा से आप, हर परीक्षा में सफलता हासिल करेंगे। उपाय: घोड़े की नाल का छल्ला धारण करें।

 

हमारे विद्वानों द्वारा अपनी शनी रिपोर्ट , करियर रिपोर्ट , आर्थिक रिपोर्ट से अपना जीवन सरल और तरक्की के रास्ता जाने ! अभी आर्डर करे 

चन्द्रराशिः मीन का साप्ताहिक राशिफल (31 अक्टूबर से 6 नवम्बर)
जो जातक जिम जाते हैं उन्हें इस सप्ताह ज़रूरत से ज्यादा वजन उठाने से बचना चाहिये, नहीं तो मंगल के चतुर्थ भाव में होने से आपकी मांसपेशियों में खिंचाव आ सकता है। इसके अतिरिक्त आपके स्वास्थ्य के लिहाज़ से समय, विशेष उत्तम रहने की संभावना बनती दिखाई दे रही हैं। इस सप्ताह की शुरुआत में चन्द्रमा दशम भाव से होते हुए एकादश भाव में प्रवेश करेंगे, जिससे कार्यस्थल पर भले वो ऑफिस हो या आपका कारोबार, आपकी कोई लापरवाही आपको आर्थिक नुकसान करा सकती है। इसलिए जल्दबाज़ी में कुछ भी करने से बचते हुए, हर कार्य को ठीक तरीके से करें। सामाजिक उत्सवों में आपकी सहभागिता, आपको समाज के कई प्रभावशाली व्यक्तियों के संपर्क में लाने का अवसर देगी। ऐसे में इन सभी अवसरों को अपने हाथों से न जाने देते हुए, उनका उत्तम से उत्तम लाभ उठाने का प्रयास करें। अकसर हम अपनी क्षमता को लेकर अहंकारी हो जाते है, जिससे हम अपनी क्षमता से ज्यादा कार्यों की ज़िम्मेदारी अपने ऊपर ले लेते हैं। ऐसा ही कुछ इस सप्ताह के अंत में चन्द्रमा के लग्न में प्रवेश करते ही आप भी करते दिखाई देंगे। इससे आप किसी एक कार्यों को करने की जगह, हर काम में खुद को बुरी तरह फँसा सकते हैं। इस सप्ताह छात्रों को दूसरों की आलोचना से प्रभावित होकर, अपनी क्षमताओं को कम आंकने की जरुरत नहीं होगी। क्योंकि ये बात आप भी अच्छी तरह समझते हैं कि बेवजह मन में शक पैदा करने से बेहतर है कि, आप किसी प्रोफेशनल कोर्स में दाख़िला लें और अपना अच्छा प्रदर्शन देते हुए, सभी का मुँह बंद कर दें। इसलिए दूसरों की बेकार की बातों से खुद को परेशान न करें और केवल शिक्षा के प्रति ही केंद्रित होते हुए, सही निर्णय लें। उपाय: बहते हुए पानी में एक सिक्का प्रवाहित करें।

error: Content is protected !!

Om Asttro / ॐ एस्ट्रो

आपका हार्दिक स्वागत करता है ,

ॐ एस्ट्रो से अभी जुड़े 

You have successfully subscribed to the newsletter

There was an error while trying to send your request. Please try again.

Om Asttro / ॐ एस्ट्रो will use the information you provide on this form to be in touch with you and to provide updates and marketing.
%d bloggers like this: